चुनाव से पहले जीत हासिल करने के लिए हर पार्टी कुछ न कुछ प्लान तैयार करती है। ऐसे में BJP भी हर तरह से तैयारी कर रही है। विधानसभा चुनाव में ब्राह्मण मतदाताओं को पार्टी के पक्ष में एकजुट रखने की कोशिशें BJP ने तेज़ कर दी है।

Delhi में प्रदेश के ब्राह्मण नेताओं के साथ बैठक के दौरान यह निर्देश दिए गए हैं कि प्रदेश के सभी ब्राह्मण सांसद व मंत्री समाज के बीच सक्रिय रहें। सांसद व मंत्री विधानसभाओं में जाकर समाज को यह बताएंगे कि BJP हमेशा से उनके साथ रही है और आगे भी रहेगी।

Delhi में 26 दिसंबर को UP के चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और BJP के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष की अगुवाई में यह बैठक हुई। बताया जाता है कि इस बैठक में उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा, मंत्री ब्रजेश पाठक, मंत्री श्रीकांत शर्मा, सतीश द्विवेदी, आनंद स्वरूप आदि शामिल हुए। इनके अलावा प्रदेश से चुने गए BJP के ब्राम्हण सांसद तथा अन्य पदाधिकारी भी थे। इस बैठक में पूर्व केंद्रीय मंत्री शिव प्रताप शुक्ला, युवा मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्रा, गुजरात के सांसद राम भाई मोकरिया और पूर्व मं‌त्री डा. महेश शर्मा की एक समिति भी बनाई गई।

यह समिति प्रदेश के ब्राम्हण नेताओं के बीच भी समन्वय स्थापित करने का काम करेगी। समिति को राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों में ब्राम्हण नेताओं को भेजने और इस समाज को पार्टी से जोड़ने की जिम्मेदारी दी गई है। समिति नेताओं के कार्यक्रम तय करेगी। सबकी बातें सुनने के बाद रणनीतिकारों ने यह निर्देश दिए कि यह चुनाव का वक्त है। सब लोग समाज के बीच नजर आएं और लोगों को समझाएं कि सिर्फ BJP की उनका भला कर सकती है।

यह भी पढ़ें – हो गया साफ, Captain Amarinder Singh की पार्टी के साथ मिलकर लड़ेगी BJP

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है