Delhi में Bijli हुई महंगी, इस महीने से ही देना होगा बढ़ा हुआ बिल  

0
180

कई सालों के बाद Delhi वालों को Bijli का झटका लगा है। अब Delhi में Bijli महंगी हो गई है। Bijli बिल में जून के मध्य से 2 से 6 फीसदी तक इज़ाफ़ा हुआ है। इसकी वजह है Bijli वितरण कंपनियों द्वारा उपभोक्ताओं पर लगाए जाने वाले Bijli खरीद समायोजन लागत (पीपीएसी) में चार प्रतिशत की बढ़ोतरी करना है।

Bijli वितरण कंपनियों (डिस्कॉम) ने Delhi Electricity Regulatory Commission (DERC) की मंजूरी के बाद कोयले और गैस जैसे ईंधन की कीमतों में वृद्धि के कारण यह इजाफा किया है। सरचार्ज वृद्धि इस साल 10 जून से लागू हुई है और उपभोक्ताओं को जुलाई के बिल में इसका असर दिखेगा। DERC ने 10 जून को जारी एक आदेश में कहा है कि अतिरिक्त पीपीएसी इस साल 31 अगस्त तक या अगले आदेश तक प्रभावी रहेगा। इस संबंध में DERC की कोई तत्काल प्रतिक्रिया नहीं मिली।

पीएसी उपभोक्ताओं पर बाजार संचालित ईंधन लागत (कोयला और गैस की कीमतों में वृद्धि के कारण अतिरिक्त लागत) में भिन्नता के कारण डिस्कॉम को क्षतिपूर्ति करने के लिए एक अधिभार है। यह हर बिल पर लगाया जाता है और Delhi में, केंद्रीय Bijli मंत्रालय के आदेशों के अनुसार, इस अधिभार को त्रैमासिक आधार पर संशोधित किया जाना चाहिए। वास्तव में, Bijli खरीद लागत वितरण कंपनियों द्वारा किए गए कुल लागत का लगभग 80 फीसदी है।

DERC के आदेश में कहा गया है, ‘मुझे यह बताने का निर्देश दिया गया है कि आयोग डीईआरसी (टैरिफ के निर्धारण के लिए नियम और शर्तें) विनियम, 2017 और डीईआरसी (बिजनेस प्लान) विनियम, 2019 के विनियमन 37 के विनियमन 172 के अनुसार इस पत्र के जारी होने की तारीख से स्वीकृत (पीपीएसी) के अलावा बीवाईपीएल, बीआरपीएल और टीपीडीडीएल को क्रमश: 6, 4 और 2 प्रतिशत पीपीएसी लेने की अतिरिक्त अनुमति देता हूं।’

DERC के आदेश में कहा गया है कि Bijli उपयोगिताओं की खराब कैश फ्लो (नकदी-प्रवाह) स्थिति, पीपीएसी फार्मूले में अल्पकालिक Bijli खरीद (एसटीपीपी) को शामिल ना करना, अप्रैल और मई 2022 में एसटीपीपी पर बढ़ी निर्भरता और Bijli उत्पादन में आयातित कोयले के सम्मिश्रण के साथ-साथ गैस की कीमतों में वृद्धि की वजह से अतिरिक्त पीपीएसी की अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ें – World Population Day 2022 : गांवों में अभी भी लोगों को अधिक जागरूक करने की है ज़रुरत

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है