BJP नेता का बड़ा बयान,जनवरी से लागू होगा नागरिकता संशोधन कानून

0
408
CAA

बांकुड़ा: किसान आंदोलन के बीच नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के लागू होने की चर्चा भी शुरू हो गई है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून अगले साल 2020 के जनवरी महीने से पूरे देश में लागू हो सकता है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस की सरकार शरणार्थियों के प्रति हमदर्दी नहीं रखती है। उत्तर 24 परगना जिले में ‘आर नोय अन्याय’ अभियान के तहत उन्होंने पत्रकारों से कहा कि हमें उम्मीद है कि सीएए के तहत शरणार्थियों को नागरिकता देने की प्रक्रिया अगले साल जनवरी से शुरू हो जाएगी।

हालांकि इससे पहले अक्टूबर महीने में, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कोरोना वायरस की महामारी का कारण बताते हुए कहा था कि नागरिकता संशोधन कानून को लागू करने में अभी कुछ समय लग सकता है। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के नागरिकता संशोधन कानून को लागू किए जाने के बयान पर पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता फिरहाद हकीम ने कहा, ‘बीजेपी पश्चिम बंगाल के लोगों को मूर्ख बनाने की कोशिश कर रही है।’

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून 11 दिसंबर 2019 को भारत की संसद में बनाया गया था. इस कानून में प्रावधान है कि बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के 6 अल्पसंख्यक धार्मिक समुदायों के वो लोग भारत में नागरिकता ले सकते हैं, जो 31 दिसंबर, 2014 तक देश में आ चुके थे. हालांकि मुस्लिम शरणार्थियों को इस नागरिकता संशोधन कानून से छूट नहीं मिली थी।