Bharat Jodo Yatra : Rahul Gandhi ने आखिरकार पहन ही ली ‘जैकेट’

0
191

इस वक़्त ‘Bharat Jodo Yatra’ जम्मू और कश्मीर में असर दिखा रही है। ‘Bharat Jodo Yatra’ में कन्याकुमारी से केवल टीशर्ट में चल रहे Rahul Gandhi ने अंतिम पड़ाव में जैकेट का दामन थाम ही लिया। Rahul Gandhi के जैकेट पहनते ही उन लोगों के मुंह पर चुप्पी लग गई जिन्हें उनके सिर्फ टीशर्ट पहनने से ऐतराज़ था। जम्मू और कश्मीर के कठुआ में रैली के दौरान उन्हें जैकेट पहने हुए देखा गया। हालांकि बताया जा रहा है कि कठुआ में हल्की बारिश भी हो रही है।

Bharat Jodo Yatra में Rahul Gandhi के साथ शिवसेना सांसद संजय राउत समेत कई नेता मौजूद हैं। बता दें कि कठुआ में पदयात्रा के दौरान राहुल कुछ समय के लिए जैकेट पहने हुए नज़र आए। बीते सप्ताह उन्होंने बताया था कि मध्य प्रदेश में ठंड में ठिठुरती फटे कपड़े पहनी हुई बच्चियों से मिलने के बाद यात्रा में केवल टीशर्ट ही पहनने का फैसला किया है। खास बात है कि कांग्रेस नेता की टीशर्ट को लेकर भी जमकर राजनीति गर्मा गई थी।

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष Rahul Gandhi की अगुवाई में कन्याकुमारी से शुरू हुई Bharat Jodo Yatra अंतिम पड़ाव में जम्मू और कश्मीर पहुंच चुकी है। आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, फिलहाल यात्रा राज्य के कठुआ में है। 7 सितंबर से चले पदयात्री अब तक 10 राज्यों में 52 जिलों को कवर कर चुके हैं।

जानें, Rahul Gandhi ने क्यों नहीं पहने थे गर्म कपड़े

हरियाणा के अंबाला में कांग्रेस नेता ने कहा था, ‘लोग मुझसे पूछते हैं कि मैंने क्यों यह सफेद टीशर्ट पहना हुआ है, क्या मुझे ठंड नहीं लगती। मैं आपको कारण बताता हूं। केरल में जब यात्रा शुरू हुई थी… तो गर्मी थी। लेकिन जब हम मध्य प्रदेश पहुंचे, तो थोड़ी सर्दी थी। एक दिन तीन गरीब लड़कियां फटे कपड़ों में मेरे पास आईं… जब मैंने उन्हें देखा तो वे कांप रही थीं, क्योंकि उन्होंने ठीक कपड़े नहीं पहने हुए थे। उस दिन मैंने तय कर लिया था कि जब तक मैं कांपने नहीं लगता, मैं केवल टीशर्ट ही पहनूंगा।’

Rahul Gandhi ने कहा था, ‘जब मैं कांपना शुरू करूंगा, तब मैं स्वेटर पहनने का सोचूंगा। मैं उन तीन लड़कियों को संदेश देना चाहता हूं कि अगर आप ठंड महसूस कर रहे हैं, तो Rahul Gandhi भी ठंड महसूस करेगा।’ उत्तर प्रदेश में भी यात्रा के दौरान उन्होंने पत्रकारों से पूछा था कि यह सवाल क्यों नहीं किया जा रहा है कि ठंड में गरीबों के बच्चे बगैर स्वेटर या जैकेट के क्यों घूम रहे हैं।

Rahul Gandhi ने कहा था, ‘गरीब किसानों और मजदूरों के कई बच्चे फटे हुए कपड़े पहनकर मेरे साथ यात्रा में चल रहे थे। लेकिन मीडिया यह नहीं पूछ रहा कि क्यों गरीब किसानों और मजदूरों के बच्चे बगैर स्वेटर और जैकेट में ठंड के मौसम में चल रहे हैं।’ उन्होंने कहा था, ‘मेरा टीशर्ट पहनना बड़ा सवाल नहीं है। असल मुद्दा है कि क्यों देश के किसान, गरीब मजदूर और उनके बच्चे फटे कपड़ों में हैं।’

यह भी पढ़ें – आज मिलेगा 71 हजार युवाओं को रोज़गार, PM Modi सौंपेंगे नियुक्ति पत्र

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है