Home India अब ‘Mahakal’ मंदिर में Mobile ले जाने पर रोक, प्रसादी भी हुई...

अब ‘Mahakal’ मंदिर में Mobile ले जाने पर रोक, प्रसादी भी हुई महंगी

0

आज कल डिजिटल चीज़ों का ज़माना है। इंसान कपड़े पहनना भूल सकता है लेकिन Mobile साथ ले जाना नहीं भूल सकता। हर टाइम Mobile से न जाने कितनी ही रिल्स बनाई जाती हैं। हद तो ये है कि अब लोग धार्मिक स्थलों पर भी रिल्स बनाने से बाज़ नहीं आते। इस तरह के हालात देखते हुए उज्जैन के प्रसिद्ध Mahakal मंदिर में Mobile ले जाने पर बैन लगा दिया गया है।

मंदिर प्रबंधन ये फैसला हाल ही में दो सुरक्षाकर्मियों की ओर से वहां फिल्मी गाने पर बनाए गए वीडियो के सामने आने के बाद लिया है। आगामी 20 दिसंबर से उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर परिसर में Mobile ले जाने पर पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा। वहीं 24 दिसंबर से 5 जनवरी तक नए साल की व्यवस्थाओं के चलते गर्भगृह में भी प्रवेश प्रतिबंध रहेगा।

इसके साथ ही मंदिर में प्रसादी के लड्डुओं की दर भी बढ़ा दी गई है। लड्डुओं की यह प्रसादी पहले 300 रुपये किलो मिलती थी। अब इसे बढ़ाकर 360 रुपये प्रतिकिलो किए जाने का निर्णय भी किया गया है। विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग बाबा Mahakal का मंदिर लाखों-करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के बाद हाल ही में जैसे ही सुरक्षाकर्मियों द्वारा रिल्स बनाने का मामला सामने आया तो मंदिर प्रबंधन समिति ने यह कड़ा फैसला लिया।

मंदिर समिति अध्यक्ष एवं उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि श्री महाकाल महालोक के बनने के बाद 5 दिसंबर को श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की पहली और महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। सिंह ने बताया कि लगातार मिल रही शिकायतों के बाद 20 दिसंबर 2022 से श्री महाकाल मंदिर में Mobile और बैग ले जाने को प्रतिबंध किया गया है। इसके लिए लॉकर की सुविधा मंदिर के बाहर आगामी 15 दिनों के अंदर कर दी जाएगी। यह नियम मंदिर के पुजारियों और सुरक्षाकर्मियों पर भी लागू होगा। नियम का उल्लंघन करने और पकड़े जाने पर जुर्माने का प्रावधान होगा। जुर्माना कितना होगा इसकी अधिसूचना जल्द जारी कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें – डॉ.अंबेडकर की पुण्यतिथि पर PM Modi ने दी श्रद्धांजलि, कही ये बात

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है

Exit mobile version