भगवान राम की नगरी अयोध्या के मास्टर प्लान को लेकर PM Modi के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य व दिनेश शर्मा की मीटिंग खत्म हो गई है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हो रही इस बैठक में योगी सरकार के अयोध्या विजन का प्रस्तुतिकरण किया गया। डिजिटल मॉडल के साथ अयोध्या के सारे प्रोजेक्टों को पीएम मोदी समक्ष रखा गया। PM Modi ने मंत्रियों और अधिकारियों से सुझाव मांगे। साथ ही साथ अयोध्या के सम्रग विकास की रूपरेखा पर चर्चा की गई। इस मीटिंग में अयोध्या के विकास में योगदान देने वाले विभागों मसलन ऊर्जा, वित्त, नगर विकास,परिवहन, पर्यटन व नागरिक उड्डयन विभाग के मंत्री भी मौजूद थे।

राम मंदिर के प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने अयोध्या के मास्टर पर PM Modi और यूपी के सीएम योगी की मीटिंग पर खुशी व्यक्त की। पुजारी ने कहा कि यह अच्छी बात है। जब तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री इससे नहीं जुड़ेंगे, तब तक विकास कार्य धरातल पर नहीं दिखेंगे। बता दें कि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि PM Modi ने बैठक में मार्गदर्शन दिया। अयोध्या में बनने वाले भव्य राम मंदिर के साथ-साथ विकास कार्यों को लेकर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को लेकर PM Modi ने व्यापक विजन दिया। मंदिर निर्माण को लेकर हाई लेवल बैठक फिर होगी।

यह भी पढ़ें: आज Delhi में सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक बंद रहेंगे ये तीन Metro station, जानें वजह

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है