Corona काल में लोगों पर मुसीबत आने वाली है। जुलाई में 12 हजार वाहनों का Registration कैंसिल कर दिया जाएगा। यह फैसला Noida परिवहन विभाग (RTO) प्रशासन ने लिया है। 12 हजार वाहनों में प्राइवेट और कमर्शियल दोनों तरह के वाहन शामिल हैं। यह डीजल और Petrol के वाहन है। नोएडा प्रशासन ने वाहनों का Registration कैंसिल करने के पीछे जो वजह बताई है वो वाहनों की मियाद है। 12 हजार वो वाहन हैं जिसमे 10 साल पुराने डीजल और 15 साल पुराने पेट्रोल के Vehicle हैं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) के एक आदेश के तहत हर साल सड़क पर से ऐसे वाहनों को हटाया जाता है।

Noida Transport Department हर महीने ऐसे वाहनों की छंटनी करता है जिनकी मियाद पूरी होती जाती है। एक आंकड़े के मुताबिक बीते 3 साल में नोएडा परिवहन विभाग 60 हजार से ज्यादा वाहनों का Registration कैंसिल कर चुका है या फिर एनओसी जारी कर ऐसे वाहनों को नोएडा से बाहर कर चुका है। जानकारों की मानें तो हर महीने 2 से ढाई हजार वाहनों के संबंध में इस तरह की कार्रवाई की जाती है। इस साल जनवरी से मार्च तक 3365 वाहनों के खिलाफ इस तरह की कार्रवाई हो चुकी है। वहीं बीते साल इन्हीं तीन महीनों में 2517 वाहनों को नोएडा से बाहर किया गया था या फिर उनका Registration कैंसिल किया गया था।

नोएडा परिवहन विभाग के अधिकारियों की मानें तो जिन वाहन स्वामियों के वाहन जुलाई में 10 और 15 साल की मियाद पूरी कर रहे हैं उनका Registration कैंसिल कर दिया जाएगा। लेकिन अगर कोई वाहन स्वामी अपने वाहन को नोएडा से बाहर ले जाना चाहता है तो उसे 7 दिन की मोहलत दी जाएगी। वाहन स्वामी को 7 दिन में वाहन को दूसरे शहर या राज्य में ले जाने के लिए एनओसी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: आतंकी हाफिज सईद के घर के बाहर बम ब्लास्ट

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है