Asha Parekh को Dada Saheb Phalke award से किया जाएगा सम्मानित

0
222

काम तो सभी करते हैं लेकिन अच्छे काम को हमेशा ही सराहा जाता है ऐसे ही Bollywood में भी दस्तूर है। अपने सालों के किए गए काम का फल अब दिग्गज अभिनेत्री Asha Parekh को मिलने जा रहा है। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री Anurag Thakur ने मंगलवार(27 सितंबर) को कहा कि दिग्गज अभिनेत्री Asha Parekh को 2020 के Dada Saheb Phalke Award से सम्मानित किया जाएगा।

Dada Saheb Phalke Award को भारतीय सिनेमा के क्षेत्र में सर्वोच्च सम्मान माना जाता है। भारतीय सिनेमा जगत आज जिस मुकाम पर है इसे वहां तक लाने में Asha Parekh का बहुत बड़ा योगदान रहा है। Asha Parekh यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने वाली 52वीं हस्ती होंगी। Anurag Thakur ने कहा, ‘आशा भोंसले, हेमा मालिनी, उदित नारायण झा, पूनम ढिल्लों और टीएस नागभरण की सदस्यता वाली दादा साहब फाल्के समिति ने 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में Asha Parekh को पुरस्कार देने का फैसला किया है।’

Asha Parekh अपने दौर की हाइएस्ट पेड एक्ट्रेसेज में से एक रही हैं। उन्होंने पंजाबी, गुजराती और कन्नड़ फिल्मों में भी काम किया। उन्होंने अपनी खुद की प्रोडक्शन कंपनी भी लॉन्च की थी और टीवी शोज भी बनाए। उन्हें साल 1992 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। Anurag Thakur ने आशा के बारे में कहा, ‘उन्होंने 95 से ज्यादा फिल्मों में काम किया और 1998 से 2001 तक केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) की अध्यक्ष रहीं।’

सिनेमा के क्षेत्र का यह सर्वोच्च पुरस्कार (Dada Saheb Phalke Award) हर साल राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में प्रदान किया जाता है। इस साल यह कार्यक्रम 30 सितंबर को आयोजित किया जाएगा जहां राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ऐक्ट्रेस आशा पारेख को पुरस्कार प्रदान करेंगी। सुपरस्टार रजनीकांत को पिछले साल इस अवॉर्ड से नवाज़ा गया था।

79 वर्षीय Asha Parekh ने ‘दिल देके देखो’, ‘कटी पतंग’, ‘तीसरी मंजिल’ और ‘कारवां’ जैसी हिट फिल्मों में काम किया है। उन्हें हिंदी सिनेमा की आइकॉनिक ऐक्ट्रस माना जाता है। इससे पहले 2019 का Dada Saheb Phalke Award साउथ सुपरस्टार रजनीकांत को दिया था। पारेख ने 1990 के दशक के आखिर में प्रशंसित टीवी धारावाहिक ‘कोरा कागज’ का निर्देशन किया था। एक निर्माता और निर्देशक के तौर पर भी उनका काम अभूतपूर्व रहा।

यह भी पढ़ें – Dhami सरकार एक्शन में, विधानसभा बैकडोर भर्ती के कर्मचारियों पर होने लगी सख्ती

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है