सेना के लिए सुरक्षित नहीं आकाश ! Arunachal Pradesh में फिर सेना का Helicopter Crash

0
201

Indian Army के चलते हम देश में ख़ुद को महफूज़ समझते हैं। वहीं सेना के जवानों की ज़िंदगी हर पल दांव पर लगी रेहती है। सैन्य उड़ानों के दुर्घटनाग्रस्त होने का सिलसिला नहीं थम रहा है। गुरुवार (21 अक्टूबर) को एक बार फिर अरुणाचल प्रदेश में सेना का Helicopter Crash हो गया। फिलहाल, हादसे में कोई जनहानि की खबर नहीं है।

सेना ने राहत कार्य शुरू कर दिया है। घटना सिंगिंग गांव के पास हुई है। कुछ समय पहले ही तवांग में भी एक Helicopter Crash हुआ था, जिसमें एक पायलट की मौत हो गई थी। जनसंपर्क अधिकारी ने जानकारी दी है कि अपर सियांग जिले में आज टूटिंग मुख्यालय से 25 किमी की दूरी पर सिंगिंग गांव में सेना का Helicopter Crash हो गया है। उन्होंने बताया कि दुर्घटनास्थल तक सड़क मार्ग नहीं है। सेना ने बचाव दल को रवाना कर दिया है।

लेफ्टिनेंट कर्नल अमरिंदर सिंह वालिया ने जानकारी दी, ‘एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर (ALH) जिले के दूर-दराज़ के इलाके मिगिंग में क्रैश हो गया है। तलाशी अभियान की शुरुआत कर दी गई है।’ अपर सियांग जिले के उपायुक्त शाश्वत सौरभ ने बताया, ‘हमने तलाशी शुरू कर दी है और बचान अभियान जारी है। दुर्घटनास्थल पर दल भेजे गए हैं। यात्रियों की संख्या और उनकी हालत को लेकर आगे की जानकारी उपलब्ध नहीं है।’

12 अक्टूबर को ही भारतीय नौसेना का मिग 29के लड़ाकू विमान क्रैश हो गया था। नौसेना ने जानकारी दी थी कि विमान के पायलट सुरक्षित थे और हादसा तकनीकी खराबी की वीजह से हुआ था। नौसेना की तरफ से जारी बयान के अनुसार, ‘गोवा से समुद्र के ऊपर नियमित उड़ान भर रहे MiG 29K में वापसी के दौरान तकनीकी खराबी आ गई। पायलट सुरक्षित रूप से निकल गए और तेज खोजी और बचाव अभियान में वह मिल गए।’

5 अक्टूबर को राज्य के तवांग में सेना का चीता Helicopter Crash हो गया था। खबरें आई कि नियमित उड़ान के दौरान हादसा हुआ था। Helicopter में मौजूद दोनों पायलट्स को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

यह भी पढ़ें – Uttarakhand में दिवाली मनाएंगे PM Modi, कई परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है