APJ Abdul Kalam Death Anniversary : मिसाइल मैन की वो बातें जो आपको हमेशा करेंगी Inspire

0
176

लोग आते हैं, लोग जाते हैं लेकिन कुछ शख़्सियत कभी नहीं भुलाए जाते। इन लोगों में से एक नाम APJ Abdul Kalam साहब का भी है। Kalam साहब का पूरा नाम Avul Pakir Jainulabdeen Abdul Kalam है। Abdul Kalam भारत के 11 राष्ट्रपति होने के अलावा एक भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिक थे, जिन्हें मिसाइल मैन के नाम से भी जाना जाता है।

भारत में सबसे पहले मिसाइल बनाने का श्रेय भारत के 11 वें राष्ट्रपति Dr. APJ Abdul Kalam को दिया जाता है, इसी की वजह से इन्हें भारतीय इतिहास में मिसाइल मैन के नाम से भी जाना जाता है। इसके अलावा बता दें कि जो पहली मिसाइल बनाई गई थी उसे साइकिल पर रखकर लॉन्चिंग के लिए ले जाया गया था।

आज 27 जुलाई को Dr. APJ Abdul Kalam की Death Anniversary 2022 है. उनकी मृत्यु दिवस के अवसर पर उनके जन्म से संबंधित जानकारी आज की इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं।अगर आप अपने जीवन में अपना लक्ष्य प्राप्त करना चाहते हैं तो उनके द्वारा कहे गए शब्द आपके लिए रामबाण साबित हो सकते हैं।

Dr. APJ Abdul Kalam का जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम शहर में 15 अक्टूबर 1931 को हुआ था। एपीजे अब्दुल कलाम का नाम एक भारतीय मिसाइल मैन तथा भारत के 11वे राष्ट्रपति के रूप में जनता के मध्य मशहूर हैं। एपीजे अब्दुल कलाम की प्रारंभिक शिक्षा उनके निवास स्थान रामेश्वरम में ही हुई थी।

Dr. APJ Abdul Kalam बचपन से ही पढ़ने में माहिर थे। बता दें कि यूट्यूब की कुछ वीडियो के अनुसार डॉ एपीजे अब्दुल कलाम के साथ उनकी स्कूल समय के दौरान टीचरों के द्वारा धार्मिक भेदभाव भी किया जा चुका है। इन सबके बावजूद डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ने अपनी जिंदगी में अपने सपने को पूरा करने के लिए कभी बहाने ना बनाते हुए आगे बढ़े हैं।

Dr. APJ Abdul Kalam अपनी रुचि इंजीनियरिंग क्षेत्र में रखते थे। इसीलिए उन्होंने स्पेस साइंस से अपनी इंजरिंग की डिग्री को प्राप्त किया, फिर आगे की पढ़ाई भी की। अपने कार्यों की उपलब्धि की वजह से भारत सरकार के द्वारा डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को भारत रत्न से भी सम्मानित किया जा चुका है। इनके द्वारा कही बातें अगर कोई भी व्यक्ति अपनी जिंदगी में उतार ले तो उसे सक्सेस होने से कोई नहीं रोक सकता।

  • अपना लक्ष्य प्राप्त करने के लिए डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ने युवाओं के लिए संदेश दिया है कि अगर तुम सूरज की तरह बनना चाहते हो तो आपको सबसे पहले सूरज की तरह जलना सीखना होगा। अर्थात आपको सबसे पहले कड़ी मेहनत करनी होगी तभी आप अपने लक्ष्य को पा सकेंगे।
  • Dr. APJ Abdul Kalam कहते हैं कि हम अपना भविष्य नहीं बदल सकते। परंतु हम अपनी आदतों को बदल सकते हैं जिससे हमारा भविष्य निश्चित तौर पर ही बदल जाएगा।
  • एक महान लक्ष्य बनाया जाए, ज्ञान अर्जित किया जाए, कड़ी मेहनत किया जाए और हमेशा दृढ़ रहा जाए।
  • Dr. APJ Abdul Kalam के अनुसार जीवन एक ऐसा कठिन खेल है, इसमें आप अपने जन्मसिद्ध अधिकार को बनाए रखकर ही इसे जीत सकते हैं।
  • युवाओं के लिए Dr. APJ Abdul Kalam कहते हैं कि- युवाओं को मेरा संदेश है कि अलग अलग तरीके से सोचे कुछ नया करने का प्रयास करें। अपना रास्ता खुद बनाना सीखें और इससे असंभव को भी संभव बनाने का प्रयास करें।
  • “अगर हम स्वतंत्र नहीं है तो कोई भी हमारा आदर नहीं करेगा।”ऐसा डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम का कहना है।

यह भी पढ़ें – Jammu-Kashmir : कश्मीरी पंडितों के लिए बन रहे शानदार आशियाने

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है