Farmers Protest के मास्टरमाइंड अमरिंदर सिंह: अनिल विज

0
682
captamarindersingh

अंबाला: राहुल गांधी ने केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च को लेकर दावा किया है कि देश के किसान ‘मोदी सरकार की क्रूरता’ के खिलाफ डटकर खड़े हैं। उन्होंने दिल्ली पहुंचने की कोशिश कर रहे किसानों को रोके जाने और उन पर पानी की बौछार करने से जुड़ा एक वीडियो ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला। वीडियो के साथ उन्होंने एक जोशीली कविता भी ट्वीट किया और पानियों की बौछार की ओर इशारा करते हुए लिखा कि मूसलाधार बरसते पानी में भी किसान तनिक भी नहीं रुक रहे।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘नहीं हुआ है अभी सवेरा, पूरब की लाली पहचान। चिड़ियों के जगने से पहले, खाट छोड़ उठ गया किसान। काले कानूनों के बादल गरज रहे गड़-गड़, अन्याय की बिजली चमकती चम-चम। मूसलाधार बरसता पानी, जरा ना रुकता लेता दम! मोदी सरकार की क्रूरता के खिलाफ देश का किसान डटकर खड़ा है।’राहुल गाँधी के इसी बयान पर आज हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने जमकर हल्ला बोला।

अनिल विज ने यहाँ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर जमकर निशाना साधा और कहा कि किसान बिल पूरे देश के लिए आये हैं और पंजाब को छोड़कर पूरे देश के किसानों ने इन्हे स्वीकार कर लिया, लेकिन पंजाब में अमरिंदर सिंह की इंजीनियरिंग की वजह से यह आंदोलन हुआ। विज ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने किसानों को बता के लिए बुलाया है और उम्मीद है कि उन्हें यह बात समझ में आ जाएगी।

दरअसल मॉनसून सत्र में पारित हुए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं। खासकर पंजाब में किसान लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं। उनकी मांग है कि इन कृषि कानूनों को वापस लिया जाए। उनका दावा है कि ये कानून किसान-विरोधी हैं और अपनी ही जमीन पर किसान मजदूर बनकर रह जाएंगे, नियंत्रण बड़ी कंपनियों के हाथ में चला जाएगा। दूसरी तरफ मोदी सरकार इन कानूनों को कृषि सुधार बता रही है और उसका दावा है कि इससे किसानों की आमदनी बढ़ाने, मंडियों में बिचौलियों पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी।