Air India ने क्रू मेंबर्स के लिए जारी की गाइडलाइन,बिंदी का साइज़ और चूड़ियों की संख्‍या भी निर्धारित

0
171

वक़्त बचाने के लिए आज कल ज़्यादातर लोग हवाई सफर को ही तरजीह देते हैं। ऐसे में Air India ख़ुद को बेहतर बनाने के लिए प्रयास कर रही है। टाटा समूह Air India को फिर से दुनिया की बेहतरीन एयलाइन्‍स बनाने में जुटा हुआ है। Air India की कमान टाटा के हाथ में आने के बाद से इसमें कई बदलाव किए गए हैं।

अब क्रू मेंबर्स के सजने-संवरने के लिए भी नई गाइडलाइन जारी की गई है। अब महिला और पुरुष क्रू मेंबर्स को इन गाइडलाइन के अनुसार ही स्‍वयं को तैयार करना होगा। नई गाइडलाइन के अनुसार, अब महिला क्रू मेंबर्स के लिए बिंदी का साइज, चूड़ियों की संख्‍या और लि‍पस्टिक और नेल पेंट का कलर तक तय कर दिया गया है।

Air India की नई गाइडलाइन में कर्मचारियों से ऑफ ड्यूटी कंपनी की यूनिफॉर्म और एक्‍सेसरीज न पहनने की सलाह भी दी गई है। एयर इंडिया ने अब हेयर जेल लगाना अनिवार्य कर दिया है। साथ ही जिन पुरुष क्रू मेंबर्स के कुछ बाल सिर से उड़े हुए हैं, उन्‍हें अब अपन सिर क्लिन शेव्ड रखना होगा। क्रू कट को अब पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया गया है।

Air India की नई गाइडलाइन में कहा गया है कि महिला और पुरुष कर्मचारी, जिनके बाल सफेद हो चुके हैं, उनके लिए बालों को कलर करना होगा। कलर भी नेचुरल होना चाहिए। फैशन कलर और मेहंदी लगाने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा गर्दन, कलाई और टखने पर किसी भी तरह का धार्मिक चिन्‍हृ गुदवाने की अनुमति नहीं होगी। Air India ने ऑफ ड्यूटी पर अपने कर्मचारियों को कंपनी की यूनिफॉर्म और एक्‍सेसरीज को नहीं पहनने की सलाह दी है।

महिला केबिन क्रू के लिए काफी डिटेल्‍ड गाइडलाइन जारी की गई है। वे अब हाई टॉप नॉट्स हेयर स्‍टाइल नहीं कर पाएंगी। बालों में केवल चार काली बॉबी पिन लगाने की ही अनुमति होगी। इसके अलावा आईशैडो, लिपस्टिक, नेल पेंट और बालों का रंग भी निर्धारित किया गया है। इनका पालन भी सख्‍ती से करना होगा। अपनी पसंद के रंग की लिपस्टिक और नेल पेंट लगानी की पूरी तरह मनाही होगी।

महिला क्रू मेंबर्स को अब पर्ल के झुमके न पहनने की सलाह दी गई है। वे केवल सोने या चांदी के गोल आकार के झुमके ही कानों में डाल सकती हैं। Air India की जो क्रू मेंबर्स साड़ी पहनती हैं, वो केवल 0.5 सेटीमीटर की ही बिंदी लगा सकती हैं। इसके अलावा उन्‍हें हाथों में केवल एक-एक चूड़ी पहनने की इजाजत होगी, जिन पर न तो कोई डिजाइन होगा और न ही स्‍टोन होंगे।

यह भी पढ़ें – Uttarakhand में खेती छोड़ अपने पुराने काम धंधे पर लौट रहे लोग, जानें वजह

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है