आंदोलन के सुपर हीरो लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी राम मंदिर भूमि पूजन कार्यारम्भ में क्यों नहीं पहुचे ?

कम से कम हर भारतीय तो इस बात को समझता है कि बढ़़ती उम्र के पहिये धर्म की तरफ ले जाते हैं. धार्मिक कर्म कांड या धार्मिक यात्रायें हमारे भारतीय बुजुर्गों को शारीरिक शक्ति भी देते हैं और मन की शांति भी. तो फिर राम मंदिर आंदोलन के सुपर हीरो लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी राम मंदिर भूमि पूजन कार्यारम्भ में क्यों नहीं पहुचे .क्यों इनकी उम्र आड़े आ रही है? बताया जा रहा है कि आडवाणी, जोशी और कल्याण सिंह जैसे राम मंदिर आंदोलन के नायक राम मंदिर ना जाकर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ही इस कार्यक्रम से रहे .

सब जानते हैं कि लाल कृष्ण आडवाणी जैसी हस्ती जिनके जीवन की सबसे बड़ी इच्छा और सपना राम मंदिर निर्माण था. जब ये इच्छा पूरी हो रही. ये सपना पूरा हो रहा तो आडवाणी यदि मंदिर के कार्यक्रम में उपस्थित नही है …अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन में लाल कृष्ण आडवाणी का उपस्थित का कार्यक्रम मुल्तवी कर दिया गया. ये फैसला लोगों को नागवार गुजर रहा है देश के धन्नासेठ, इक़बाल अंसारी और तमाम लोग राम मंदिर की भूमि पूजन में शामिल हुए लेकिन  लाल कृष्ण आडवाणी नहीं हों तो लग रह था कि पूरी बारात है पर दूल्हा ही नहीं है.

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है