Vastu के मुताबिक़ घर की इस दिशा को रखे ख़ाली, मिलेगा ये फायदा 

0
878

घर एक ऐसा स्थान होता है जिसे हर इंसान पसंद करता है इसलिए ही घर का हर एक कोना भी बेहद ज़रूरी होता है। Vastu Shastra में उत्तर दिशा का विस्तार 337.5 अंशों से 22.5 अंशों तक होता है। अर्थात उत्तर दिशा से भूभाग-भूखण्ड की माप आरंभ होती है और यहीं आकर समाप्त होती है। धनाधीश भगवान कुबेर का इस दिशा पर आधिपत्य है। उत्तर दिशा में धन तिजौरी रखने का स्थान, स्नानागृह, पानी का नल, बोरिंग, अण्डरग्राऊंड जल संग्रहण, हल्का निर्माण, हल्का सामान रखना शुभ होता है। बता दें कि इस दिशा को सदैव खुला, खाली व हल्का रखना चाहिए।

जानें, Vastu Shastra के अनुसार किन नियमों का पालन करने से घर में बनी रहती हैसमृद्धि

  1. जिन व्यक्तियों के भवन की यह दिशा उपरोक्त नियमों के अंतर्गत आती है वे सम्पन्न एवं समृद्धि का जीवन बिताते हैं। उस घर में महिलाओं का सम्मान होता है।
  2. यदि यह दिशा दोषयुक्त है तो उस घर में धन-संपत्ति का अभाव बना रहता है।
  3. महिला सदस्यों का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है।
  4. पर्याप्त सम्मान नहीं मिलता है।
  5. उत्तर दिशा में रखा हुआ धन निरंतर बढ़ता है।
  6. आफिस में कम्प्यूटर एकाउंटेंट्स-मार्केटिंग स्टाफ को इस दिशा में बैठाने से आफिस एवं कम्पनी में प्रगति होती है।

यह भी पढ़ें – इस तरह ख़ुद की बढ़ती Age पर लगाएं लगाम

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है