नागरिकता संशोधन कानून(CAA) हो, एनआरसी (NRC) हो, या फिर महंगाई का मुद्दा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मोदी सरकार पर निशाना साधने से बाज नहीं आती।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA)हो, एनआरसी (NRC) हो, या फिर महंगाई का मुद्दा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मोदी सरकार पर निशाना साधने से बाज नहीं आती। प्रियंका हर मुद्दे पर मोदी सरकार को निशाना बनाकर उनपर वार करती रहती है। एक बार फिर प्रियंका गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर वार किया है।

Image result for प्रियंका गांधी मोदी सरकार पर निशाना साधने से बाज नहीं आती।

प्रियंका ने CAA यानी नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शन और लगातार बढ़  रही महंगाई की दरों को लेकर मोदी सरकार को घेरा, उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘सब्जियां, खाने-पीने की चीजों की कीमत आम लोगों की पहुंच से बाहर हो रही हैं. जब सब्जियां, तेल, दाल और आटा महंगा हो जाएगा तो गरीब खाएगा क्या? ऊपर से मंदी के कारण गरीब को काम भी नहीं मिल रहा है।

बता दें, प्रियंका के साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम ने भी दिन-ब-दिन बढ़ रही महंगाई के मामले पर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘अपूर्ण मैनेजमेंट का सर्किल अब पूरा हो गया है. मोदी सरकार ने जुलाई 2014 में महंगाई की दरों में 7.39% से शुरुआत की थी, अब दिसंबर 2019 में ये आंकड़ा फिर 7.35% पर पहुंच गया है।

इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि, ‘खाने-पीने की चीज़ें 14.12% तक बढ़ रही हैं, सब्जियों के कीमत 60 फीसदी तक बढ़ चुकी हैं, प्याज़ 100 रुपये किलो बाजारों में बिक रहा है, इन्हीं अच्छे दिनों का वादा बीजेपी ने किया था।

Image result for महंगाई के मामले पर सरकार पर हमलावर होने के साथ ही चिदंबरम ने नागरिकता संशोधन एक्ट के मामले पर लिखा,

महंगाई के मामले पर सरकार पर हमलावर होने के साथ ही चिदंबरम ने नागरिकता संशोधन एक्ट के मामले पर लिखा, ‘देश में इस वक्त सीएए-एनपीआर के मसले पर नाराजगी जारी है. दिन-ब-दिन गिर रही अर्थव्यवस्था भी लगातार चिंता का विषय बनी हुई है।

गौरतलब हो कि, बीते दिनों सामने आए महंगाई के आंकड़ों ने सरकार की परेशानी बढ़ा दी है. दिसंबर 2019 में खुदरा महंगाई दर 7.35 फीसदी पर पहुंच गई है। जबकि दिसंबर 2018 में ये आंकड़ा 2.11 के आसपास था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here