India (इंडिया) और Australia (ऑस्ट्रेलिया) के बीच पहला एकदिवसीय मैच चल रहा था जिसके दौरान कुछ लोगों ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

क्रिकेट और कला को राजनीति से हमेशा दूर ही रखना चाहिए। क्रिकेट और कला जैसी चीजों का राजनीति से कोई संबंध नहीं होना चाहिए लेकिन पिछले कुछ सालों में देखा गया है कि राजनीति अब हर चीज के अंदर समा चुकी है। कुछ दिनों पहले देश के गृहमंत्री Amit Shah (अमित शाह) ने CAA (नागरिकता संशोधन कानून) को पहले लोकसभा में पास कराया और उसके बाद राज्यसभा में पास करा कर इतिहास रच दिया लेकिन लोगों ने इसे सड़कों पर मानने से साफ तौर पर इंकार कर दिया। इस बिल को सभी ने संविधान के खिलाफ बताया।

IND VS AUS : AUSTRALIA ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसला, K.L….

CAA का विरोध India- Australia Match के दौरान Wankhede Stadium में होने पर BCCI ने क्या कहा

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में हिंसा फैली हुई है। Jamia Millia Islamia (जामिया मिल्लिया इस्लामिया) से शुरू हुई हिंसा धीरे-धीरे पूरे देश में फैलती चली गई। इस हिंसा में कितने लोगों की जानें भी जा चुकी है। हाल ही में ताजा मामला मुंबई से सामने आया है। जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को India (इंडिया) और Australia (ऑस्ट्रेलिया) के बीच पहला एकदिवसीय मैच चल रहा था जिसके दौरान कुछ लोगों ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद वहीं पर मौजूद दूसरे ग्रुप ने मोदी-मोदी के नारे लगाने शुरू कर दिए। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध वाली टीशर्ट पहनकर लोग मैच देखने पहुंचे थे।

Team India हुई परेशान, अगले 2 महीने तक नहीं खेल पाएगा यह जबरदस्त खिलाड़ी

CAA का विरोध India- Australia Match के दौरान Wankhede Stadium में होने पर BCCI ने क्या कहा

इन्होंने सिर्फ  NRC (एनआरसी) और CAA (नागरिकता संशोधन कानून) के खिलाफ नारेबाजी ही नहीं की बल्कि इन्होंने इंडिया-इंडिया चिल्लाकर नारे लगाए। इस दौरान Wankhede Stadium (वानखेड़े स्टेडियम) दो ग्रुप में बट गया जहां पर दोनों ग्रुप के बीच में बहस भी देखने को मिली। यहां पर मौजूद एक दर्शक ने कहा कि हमने शांतिपूर्ण अपने प्रदर्शन को जारी रखा। हमने किसी भी इंसान को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया ना वहां पर कोई हिंसा की। हालांकि बीसीसीआई का इस पर अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here