देशभर में चल रहे (सीएए) CAA के विरोध प्रदर्शन में अब (अमेरिका) America की टेक जाइंट कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला भी कुद पड़े हैं। नडेला ने भारत में चल रहे विरोध प्रदर्शनों को बुरा और दुखद कहा। वेबसाइट बजफीड के एडिटर बेन स्मिथ ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

(स्मिथ) Smith ने अपने (ट्विटर हैंडल) Twitter Handler पर बताया कि उन्होंने नडेला से सीएए पर सवाल पूछा, तो माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने कहा, “मुझे लगता है भारत में इस पर जो भी हो रहा है, वह बुरा है, मुझे खुशी होगी अगर कोई अप्रवासी बांग्लादेशी भारत में आकर यहां की अगली बड़ी कंपनी खोलता है या इन्फोसिस जैसी कंपनी का अगला सीईओ बनता है।”।

दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं की लिस्ट जारी, India और Pakistan का नंबर

स्मिथ ने एक और ट्वीट में कहा, “नडेला ने अपनी राय मैनहैटन में माइक्रोसॉफ्ट के कार्यक्रम में एडिटर्स से बातचीत के दौरान रखी। नडेला अमेरिका में भारतीय मूल के दो बड़े टेक लीडर्स में से हैं। उनके अलावा भारत के ही सुंदर पिचई गूगल को हेड कर रहे हैं।”

गलती से हुआ विमान पर हमला 176 लोगों उतरे मौत के घाट

आपको बता दें कि सत्य नडेला मुख्य रूप से भारतीय मूल के हैं। स्मिथ से बात करते हुए नडेला ने कहा, “मुझे उस जगह पर गर्व है, जहां से मुझे अपनी सांस्कृतिक विरासत मिली”। मैं हैदराबाद में बड़ा हुआ। मुझे हमेशा लगता है कि यह जगह बड़े होने के लिए सबसे अच्छी जगह है। हम ईद मनाते थे, हम क्रिसमस मनाते थे और दिवाली भी – ये तीनों त्योहार हमारे लिए बड़े त्योहार है।”

(सीएए) CAA के आलोचकों में से एक भारतीय इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने भी सत्य नडेला की तारिफ की है। गुहा ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मुझे खुशी है कि सत्या को जो कहना था, उन्होंने वही कहा।” गौरतलब है कि गुहा को पिछले महीने सीएए पर विरोध प्रदर्शन के दौरान बेंगलुरु में पुलिस ने हिरासत में ले लिया था”।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here