बाकी कई जरूरी वस्तुओं के भी दाम बढ़ने से आम उपभोक्ताओं को जीवन यापन के लिए पहले से अधिक खर्च करना पड़ रहा है।

प्याज के बढ़ते दाम कम होने का नाम नहीं ले रहे है। जिसके कारण प्याज की खरीद में काफी कमी आई है। और साथ ही प्याज के बढ़ते दामों ने लोगों के खाने का स्वाद भी बिगाड़ कर रख दिया है। वहीं बाकी कई जरूरी वस्तुओं के भी दाम बढ़ने से आम उपभोक्ताओं को जीवन यापन के लिए पहले से अधिक खर्च करना पड़ रहा है।

नागरिकता संशोधन बिल पर सियासी घमासान तेज, अब राहुल गांधी और प्रियंका ने कही…

प्याज की महंगाई ने बिगाड़ा लोगों के खानें का स्वादइस बात की जानकारी उपभोक्ता मामलों, खाद्य और सार्वजनिक वितरण के वर्तमान कैबिनेट मंत्री राम विलास पासवान द्वारा मंगलवार को लोकसभा में दी गई। उन्होंने लिखित में जानकारी देते हुए बताया कि जरूरी वस्तुओं की जो कीमतों की लिस्ट सौंपी गई है। उससे एक बात साफ होती है कि आटा, दाल,चावल, गेहूं, तेल, चाय, चीनी और दूध, सब्जियों की किमतों में जनवरी की तुलना में वर्ष के आखिरी महीने दिसंबर में काफी बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने साथ ही बताया कि उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा 22 जरूरी वस्तुओं पर नजरें रखने पर यह पाया गया कि वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला लगातार चलता रहा है। विशेष रूप से प्याज, आलू, और टमाटर की कीमतों में अधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

रेप पर रक्षामंत्री का अद्दभूत है ये बयान…

प्याज की महंगाई ने बिगाड़ा लोगों के खानें का स्वाद

बता दें कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा में दोनों सांसद भर्तृहरि महताब और राहुल रमेश शेवाले ने उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री से इस वर्ष जरूरी वस्तुओं की कीमतों में हुई बढ़ोतरी की सूचना मांगी थी। उन्होंने कैबिनेट मंत्री राम विलास पासवान से कीमतों पर नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा किये गये प्रयासों की भी सूचना मांगी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here