बल्लभगढ़ के रैन बसेरे में यात्रियों के रुकने के लिए प्रबंध भी पूरे नहीं दिखाई पड़े। रैन बसेरे के अंदर महज तीन रजाई ही नजर आई

नई दिल्ली:  दिल्ली NRC समेत देश के तमाम बड़े हिस्सों में ठंड ने लोगों की रुह कंपानी शुरु कर दी है लेकिन राजधानी से सटे फरीदाबाद औऱ बल्लभगढ़ जो कि स्मार्ट सिटी का चोला ओढ़े बैठे है वहां पर अधिकारियों की कारस्तानी ये है कि सड़क किनारे लोग पुअरा पर सोने को मजबूर है।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर हुए भयानक हादसे में 4 लोगों की मौत

Related image

इस तस्वीर को देखकर यही लगता है कि फरीदाबाद कि नगर निगम के अधिकारियों के लिए मानो अभी ठंड शुरू ही नहीं हुई है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि हमने फरीदाबाद के रैन बसेरों का रियलिटी चेक किया है। और हमे रियलिटी चेक के दौरान रैन बसेरा के चौकीदार महिंद्र कुमार मिले जिनका कहना था कि यहा पर जो समस्या बनी हुई है वो हाल के दिनों से है।

आपको बता दें कि हमने हरियाणा के दो शहरो में रियलिटी चेक किया विधानसभा क्षेत्र के लिहाज से हमे एनआईटी विधानसभा के रैन बसेरे में ताला लगा हुआ मिला तो वही बल्लमगढ़ रैन बसेरा की हालत बद से बदतर मिला।

यूपी के मुजफ्फरनगर में BSc की छात्रा के साथ रेप, युवकों ने बनाई अश्लील वीडियो

इतना ही नहीं बल्लभगढ़ के रैन बसेरे में तो यात्रियों के रुकने के लिए प्रबंध भी पूरे नहीं दिखाई पड़े। रैन बसेरे के अंदर महज तीन रजाई ही नजर आई और उसके बाद नीचे बिछाने के लिए एक टाट की दरी थी जिस पर यात्री सोते हुए नजर आय़ा ऐसे में सवाल बड़ा कि जिस आम गरीब जनता से सरकारा वोट की अपील करती है क्या उनको ठंड से बचने के लिए बेहतर प्रबंध भी नहीं कर सकती मुकेश ठाकुर फरीदाबाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here