अगर आप भी इस रोग से ग्रस्त हैं, तो इसे अनदेखा ना करें और पथरी से जुड़े इन घरेलू उपचारों को अपनाएं।

किडनी में स्टोन यानी पथरी की समस्या से कई लोग परेशान रहते हैं। किडनी में स्टोन होने पर पेट में बेहद ही तेज दर्द होता है। पेट दर्द के अलावा कई बार यूरीन डिस्चार्ज करते समय भी दर्द की समस्या का सामान करना पड़ता है। अगर आप भी इस रोग से ग्रस्त हैं, तो इसे अनदेखा ना करें और पथरी से जुड़े इन घरेलू उपचारों को अपनाएं। इन घरेलू उपचारों की मदद से किडनी में मौजूद स्टोन शरीर से बाहर निकल आएंगे और स्टोन की समस्या से निजात मिल जाएगी।

विश्व एड्स दिवस पर विशेष: परदेस से एड्स लेकर लौट रहे मजदूर

पीएं अधिक पानी

किडनी में स्टोन होने पर पानी का अधिक सेवन करें। दिन में 10 गिलास पानी पीने से स्टोन शरीर से बाहर निकल आते हैं और आपको दर्द से राहत मिल जाती है। इसके अलावा किडनी में दोबारा से स्टोन भी नहीं बनते हैं।

अनार खाएं

 

पथरी की समस्या से ग्रस्त लोग अपनी डाइट में अनार शामिल कर लें। अनार का जूस पीने से पथरी की तकलीफ से राहत मिल जाती है। इस फल के अंदर एस्ट्रीजेंट गुण होता है जो कि किडनी के स्टोन खत्म करने में कारगर साबित होते है। इसलिए पथरी के रोगी रोज इस फल का सेवन किया करें और इस फल को बीज सहित खाया करें।

नींबू पानी पीएं

रोज एक गिलास नींबू पानी पीने से भी किडनी में स्टोन की समस्या सही हो जाती है। दरअसल नींबू के रस के अंदर सिट्रिक एसिड पाया जाता है जो कि पथरी को तोड़ने का कार्य करता है और पथरी शरीर से बाहर निकल आती है। आप चाहें तो नींबू पानी के अंदर ऑलिव ऑयल भी मिलाकर पी सकते हैं।

नारियल पानी

किडनी में पथरी होने पर डॉक्टरों द्वारा नारियल पानी पीने की सलाह जरूर दी जाती है। रोज एक नारियल पानी पीने से किड़नी में पथरी नहीं बनती हैं और मौजूदा पथरी टूटकर बाहर निकल आती है।

व्हीट ग्रास

व्हीट ग्रास में मौजूदा तत्व पथरी की समस्या को दूर कर देते हैं और पथरी की बीमारी सही हो जाती है। पथरी होने पर आप हफ्ते में तीन बार व्हीस ग्रास का पानी पीएं। इसका पानी पीते ही आपको असर दिखने को मिलेगा।

अद्भूत है ये भक्ति,राम नाम से पटी ईंट की भट्टी 

इस तरह से तैयार करें पानी

व्हीट ग्रास को अच्छे से साफ करें और पानी से धो लें। इसके बाद दो गिलास पानी गर्म करने के लिए गैस पर रख दें। इस पानी में आप व्हीट ग्रास पीसकर डाल दें और इस पानी को अच्छे से उबाल लें। जब ये पानी उबलकर आधा रहे जाए तो इसे छान लें और हल्का ठंडा करके पी लें। आप चाहें तो इस पानी के अंदर नींबू का रस भी मिला सकते हैं।

ऊपर बताए गए घरेलू नुस्खों को आजमाने के बाद भी अगर आपको आराम ना मिले तो डॉक्टर से संपर्क करें। वहीं ये रोग होने पर अपनी डाइट का खासा ध्यान रखें और काले चने, राजमा और उन चीजों का अधिक सेवन ना करें जिनमें कैल्शियम उच्च मात्रा में पाया जाता है। क्योंकि कैल्शियम युक्त चीजे खाने से किडनी में स्टोन बनते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here