चौक थाने को बेहतर बनाने के लिए उन्होंने अपर मुख्य सचिव (गृह) को निर्देश भी दिये।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में देर रात चौक थाने के औचक निरीक्षण के लिए पहुँचे। आधी रात सीएम द्वारा हुए इस अचानक निरीक्षण से वहां तैनात संतरी से लेकर सभी अधिकारी तक भी चौक गए। मुख्यमंत्री मंगलवार रात को वाराणसी पहुँच गए थे। उन्होंने रात में ही काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन किये और सीधा इसके बाद चौक थाने के निरीक्षण के लिए पहुँच गए। चौक थाने को बेहतर बनाने के लिए उन्होंने अपर मुख्य सचिव (गृह) को निर्देश भी दिये।

ख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में देर रात चौक थाने के औचक निरीक्षण के लिए पहुँचे।

वहां अंधेरा होने के कारण सुरक्षाकर्मियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ को काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का टॉर्च की रोशनी में निरीक्षण कराया। उन्होंने निर्मल मठ भवन का निरीक्षण किया और साथ चल रहे अधिकारियों से उसकी जानकारी ली। इसके बाद मुख्यमंत्री गोयनका लाइब्रेरी के पास पहुंचे जिसकी जानकारी देते हुए अधिकारियों ने उनको बताया कि लाइब्रेरी को तोडा नहीं जायेगा क्योकि इसे धरोहर के रूप में संरक्षित रखा गया और यह काफी पुराना है ।

ख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में देर रात चौक थाने के औचक निरीक्षण के लिए पहुँचे।

अनुच्छेद 370 और राम मंदिर को लेकर पीएम मोदी ने झारखंड में दिया बड़ा…

इसी दौरान 1904 में बने इस थाने की ऐतिहासिक बिल्डिंग को संज्ञान में लेते ही मुख्यमंत्री ने गृह सचिव को आदेश दिया कि चौक थाने को बेहतरी की प्राथमिकता पर रखा जाए और इसके रख-रखाव पर ध्यान दिया जाये क्योंकि इस थाने क्षेत्र में बाबा का दरबार आता है। उन्होंने कहा कि पुलिस और चौक थाना को आधुनिक किया जायेगा। साथ ही थानों में ज़ब्त सामान के लिए अलग भवन बनाये जाये जिससे इनको प्रमाण स्वरुप सुरक्षित रख सकें। सीएम कॉरिडोर परिसर से रात 11.15 पर बाहर आ गए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here