आज से संसद में शीतकालीन सत्र भी शुरु हो चुका है। जिसके चलते सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने संसद में धारा 144 लागू कर दी है।

जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय के छात्रों का प्रदर्शन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। फीस बढ़ोतरी, छात्रावास शुल्क आदि समस्याओं से जुड़े मुद्दों से नाराज छात्रों की संसद तक जाने वाली मार्च शुरु हो चुकी है। जिसमें लगभग 2-3 हजार छात्र शामिल हैं। और इस मार्च में केवल जेएनयू के छात्र ही नहीं बल्कि शिक्षक भी शामिल हुए हैं। आपको बता दें, आज से संसद में शीतकालीन सत्र भी शुरु हो चुका है। जिसके चलते सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने संसद में धारा 144 लागू कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक आज छात्रों ने मार्च के दौरान कई बैरीकैड भी तोड़ दिये हैं। छात्रों का कहना है कि जबतक हमारी मांगे पूरी नहीं की जाएंगी हम अपना प्रदर्शन इसी तरह जारी रखेंगे।

न्यायमूर्ति शरद अरविंद बोबडे आज बने भारत के नए चीफ जस्टिस

JNU  छात्रों के प्रदर्शन की आज संसद में गूंजेगी आवाज

सूत्रों के मुताबिक बैरीकैड तोड़ने वाले लगभग 200 छात्रों को कस्टडी में ले लिया गया है। पुलिस द्वारा लगातार छात्रों को रोकने की हर मुमकिन कोशिश की जा रही है। छात्रों द्वारा बढ़ी फीस को कम करने की मांग की जा रही है। छात्रों के प्रदर्शन पर काबू पाने के लिए जेएनयू गेट के बाहर भारी मात्रा में दिल्ली पुलिस के साथ साथ सीआरपीएफ के जवान भी तैनात किये गये हैं।

 अयोध्या मामला फिर गरमाया मुस्लिम पक्ष ने कहा…

JNU  छात्रों के प्रदर्शन की आज संसद में गूंजेगी आवाज

मिली जानकारी के अनुसार पुलिसअधिकारीयों का कहना है कि छात्रों को किसी भी कीमत पर संसद में प्रवेश नहीं करना दिया जायेगा। बता दें कि पुलिस द्वारा जेएनयू छात्रों को जेएनयू के ही 1 किलोमीटर के करीब के क्षेत्र में रोकने की योजना बनाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here