तेज हवाओं की चपेट में आने से अब तक 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

भारत के मौसम विज्ञान विभाग ने चक्रवाती तूफान बुलबुल  को लेकर कई राज्यों में अर्लट जारी कर दिया है। मौसम विभाग ने बताया है कि 9 और 10 नवंबर को ओडिशा, पश्चिम बंगाल, मिजोरम, त्रिपुरा, असम और मेघालय में भयंकर चक्रवाती तूफान बुलबुल के कारण भारी बारिश हो सकती है। बता दें कि शनिवार आधी रात को चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’  पश्चिम बंगाल के सागर आइलैंड और बांग्लादेश के खेपुपारा इलाके में देखने को मिला। इससे कई जगह भूस्खलन की ख़बर है। जिससे सुंदरबन डेल्टा पर उत्तर-पूर्व में बांग्लादेश को काफी नुकसान पहुंचा है। हालांकि दक्षिण परगना और कोलकाता में बारिश रुक गई है। लेकिन तेज हवाओं से खतरा लगातार जारी है।

कोर्ट के फैसले का सलमान के पिता सलीम खान ने ऐसे किया स्वागत…

इन इलाकों में 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। तेज हवाओं की चपेट में आने से अब तक 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है। मिली जानकारी के अनुसार इस चक्रवाती तूफान का असर ओडिशा में भी देखने को मिला है।जहां भारी संख्या में पेड़ उखड़ गए हैं। सड़कों पर गिरे पेड़ों को हटाने के लिए एनडीआरएफ, ओडीआरएएफ और दमकल के कर्मचारी लगातार काम कर रहे हैं। ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में 1070 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। बालासोर और जगतसिंहपुर जिले में भी 1500 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेजा गया है। वहीं केंद्रपाड़ा जिले के राजकनिका पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत गजराजपुर गांव में एस्बेस्टस गिरने से 70 वर्षीय एक शख्स की मौत हो गई है। मृतक की पहचान गणेश्वर मलिक के रूप में हुई है। हादसा उस समय हुआ जब बुजुर्ग अपने घर में सो रहा था।

महाराष्ट्र के बाद गुजरात पर मंडरा रहा हैं खतरा, अलर्ट जारी…

सूत्रों के मुताबिक मौसम विज्ञान विभाग ने बुलबुल नामक चक्रवाती तूफान के 9 नवंबर की सुबह तक थोड़ा तेज होने की आशंका जताई है। इसके बाद इस तुफान के कुछ और समय के लिए लगभग उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है और उसके बाद यह फिर से उत्तर-पूर्व की ओर रुख ले सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here