मायावती ने हम देशवासियों से विशेष अपील करते हैं कि सभी कोर्ट के फैसले का हर हाल में सम्मान करें। यह देश भक्ति व जनहित में सर्वोत्तम उपाय है।


सुप्रीम कोर्ट अयोध्या मामले में अपनी सुनवाई पूरी कर चुका है। अब बस इंतजार सिर्फ फैसले का रह गया है और फैसला आने में भी ज्यादा दिन नहीं लगेंगे। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के जज रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं और यह फैसला उनके रिटायरमेंट से पहले आएगा। तो जाहिर सी बात है फैसला 17 नवंबर से पहले ही आ जाएगा। जैसे-जैसे फैसला करीब आता जा रहा है वैसे वैसे राजनीति अपने चरम पर पहुंचती जा रही है। देश का हर बड़ा नेता राम मंदिर और बाबरी मस्जिद को लेकर बड़े बयान दे रहा है।

इस समय देश के हर नागरिक और मीडिया की नजर सिर्फ आने वाले फैसले पर टिकी हुई हैं। इस फैसले का इंतजार देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी किया जा रहा है। अयोध्या फैसले को लेकर बयानबाजी भी शुरू हो गई है। हाल ही में बसपा सुप्रीमो मायावती ने अयोध्या मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि अयोध्या प्रकरण के संबंध में माननीय सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज कल में ही आने की संभावना है।

राम मंदिर पर फैसला आने से पहले मायावती ने दिया बड़ा बयान, लोग बोले...

उन्होंने अपने बयान को आगे कहा कि हम देशवासियों से विशेष अपील करते हैं कि सभी कोर्ट के फैसले का हर हाल में सम्मान करें। यह देश भक्ति व जनहित में सर्वोत्तम उपाय है। देश के कई बड़े नेताओं को फैसला आने पर सांप्रदायिक दंगों का डर है। इसलिए कई नेता अपना फर्ज निभाते हुए सांप्रदायिक दंगों से बचने का उपाय ढूंढ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here