राजीव शुक्ला ने घोषणा करते हुए बताया कि सौरव गांगुली को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद के लिए चुन लिया गया है।

सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनते ही कई बड़े विवाद खड़े होने लगे हैं। भारत के शानदार बल्लेबाज और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली हाल ही में बीसीसीआई के अध्यक्ष बने हैं। उन्हें कुछ लोग बधाइयां दे रहे हैं। तो कुछ लोगों ने उन पर यह भी आरोप लगाए हैं कि सौरव गांगुली और बीजेपी के बीच में 2021 के चुनाव को लेकर डील हुई है। बातें यहां तक की जा रही है कि सौरव गांगुली ने हाल ही में केंद्रीय मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की हैं।

सौरव गांगुली हाल ही में बीसीसीआई के अध्यक्ष बने हैं।

आपको बता दें कि सौरव गांगुली अपने समय में एक बेहतरीन बल्लेबाज और कप्तान रहे हैं। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने कई ऐतिहासिक क्रिकेट सीरीज जीती है। 2003 के एकदिवसीय विश्व कप में भारतीय टीम को फाइनल तक पहुंचाने वाले सौरव गांगुली ही थे। उन्हें भारतीय टीम के अब तक के सबसे बेहतरीन कप्तानों में से एक माना जाता है। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने घोषणा करते हुए बताया कि सौरव गांगुली को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद के लिए चुन लिया गया है।

सौरव गांगुली हाल ही में बीसीसीआई के अध्यक्ष बने हैं।

लेकिन उसके बाद से ही मीडिया में खबरें चल रही हैं कि बीसीसीआई के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली और अमित शाह के बीच में मुलाकात हुई है। यह मुलाकात 2021 में होने वाले चुनाव को लेकर है। लेकिन भारतीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में अपनी चुप्पी तोड़ते हुए बयान दिया है कि हमने सौरव गांगुली को बीसीसीआई का अध्यक्ष नहीं बनाया और हमारे बीच ऐसी कोई ढील नहीं हुई है। उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि बीसीसीआई का अध्यक्ष कौन होगा यह सब मैं सेलेक्ट नहीं करता हूं। इसके लिए बीसीसीआई की अपनी चुनाव प्रक्रिया है उसी के हिसाब से बीसीसीआई का अध्यक्ष चुना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here