अभिजीत बनर्जी को वर्ष 2019 के लिए अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

नोबेल पुरस्कार दुनिया का सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है। यह जिस व्यक्ति को मिलता है उसके लिए ही नहीं बल्कि उस देश के लिए भी बड़े गर्व की बात होती है। जिस देश के व्यक्ति को यह पुरस्कार मिलता है। देश के बहुत सारे लोगों राजनीति, फिल्म या किसी भी चीज में उलझे रहे लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने काम को इस हद तक आगे ले जाते हैं कि उन्हें दुनिया के सबसे बड़े सम्मान से सम्मानित किया जाता है। आज हम आपको एक ऐसे ही व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने हाल ही में नोबेल प्राइज जीता है।

राज्य सरकार ने वापस ली एडवाइजरी, अब पर्यटक कर सकेंगे सैर-सपाटा

Nobel prizeजानकारी के लिए बता दें कि जिस भारतीय मूल के व्यक्ति ने नोबेल प्राइज जीता है वह कोई और नहीं बल्कि अभिजीत बनर्जी है। भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी को वर्ष 2019 के लिए अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह अभिजीत बनर्जी के लिए ही नहीं बल्कि पूरे भारत के लिए गर्व का दिन है। उन्हें यह पुरस्कार फ्रांस की एस्थर डुफ्लो और अमेरिका के माइकल क्रेमर के साथ संयुक्त रूप से दिया गया है।
nobel prizeएक बार फिर किसी भारतीय ने नोबेल पुरस्कार को जीतकर भारत का नाम ऊंचा किया। इसके बाद नोबेल प्राइज की समिति का बयान भी सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि 30 वर्ष के पुरस्कार विजेताओं का शोध वैश्विक स्तर पर गरीबी से लड़ने में हमारी क्षमता को बेहतर बनाता है। भारतीय मूल के अभिषेक बनर्जी की उम्र 58 वर्ष है और वह कोलकाता विश्वविद्यालय और जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर चुके हैं।

IMF चीफ क्रिस्टलीना जॉर्जीवा ने कहा, ‘भारतीय अर्थव्यवस्था पर मंदी का असर दिखाई दे रहा है’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here