राफेल पर अरसठ साल के राजनाथ सिंह की ये उड़न त्सकरी पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लिए लाल निशान है।

राफेल एक ऐसा लड़ाकू विमान जो अखंड भारत की सजग प्रहरी है। जिसपे देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नारियल और ओम लिखकर ब्रह्मास्त्र बनाया है। फ्रासं के आकाश गंगा में भारत की उड़ान दुनिया के छक्के छुड़ाने के लिए काफी है।

कांग्रेस नेता ने राफेल की नींबू-नारियल वाली पूजा को कहा ड्रामा

कांग्रेस नेता ने राफेल की नींबू-नारियल वाली पूजा को कहा ड्रामा

राफेल पर अरसठ साल के राजनाथ सिंह की ये उड़न त्सकरी पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लिए लाल निशान है। मंगलवार को दुश्मनों का अमंगल करने वाले राफेल के पहले पायल राजनाथ सिंह बने राजनाथ सिंह ने बकायदा राफेल में उड़ान भरी और उसकी खासियत को जाना।

जानिए राफेल की ताकत

  • 3700 किमी तक के  मारक क्षमता
  • राफेल की अधिकतम स्पीड 2130 किमी/घंटा है
  • करीब 24,500 किलो वजन उठाकर ले जाने में सक्षम
  • 60 घंटे अतिरिक्त उड़ान की गारंटी
  • 150 किमी की बियोंड विज़ुअल रेंज मिसाइल
  • हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल है राफेल
  • अत्याधुनिक हथियारों से लैस है राफेल

भारतीय वायुसेना में राफेल के शामिल होते ही शुरु हुआ बयानबाजी का दौर…

दरअसल फ्रांस ने भारत को राफेल की पहली खेप मुहैया करा दी है अब हर महीने एक राफेल भारत को मिलता रहेगा। जाहिर है कि सितंबर 2016 में पीएम मोदी ने फ्रांस  से 36 राफेल विमानों की सौदा की थी जिसकी पहली किश्त भारत को मिल गई है।

भारतीय वायुसेना के बेड़े में राफेल दुश्मनों के लिए न सिर्फ अचूक वार है बल्कि राफेल का नाम ही दुश्मनों के  लिए मौत का पैगाम हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here