कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा राफेल विमान रिसीव करने पर ही सवाल उठा दिया है, की इसे रक्षा मंत्री द्वारा ही क्यों रिसीव किया गया

कल रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा भारत का पहला फ्रांसीसी लड़ाकू विमान राफेल प्राप्त कर लिया गया है। राफेल के भारत मे आने से ही राजनीतिक तूफान एक बार फिर जोरों शोरों से छा गया है। राजनाथ सिंह ने फ्रांस में शस्त्र पूजा करने के साथ ही राफेल विमान को रिसीव किया, इस दौरान राफेल पर नारियल चढ़ाया, ‘ऊँ’ का निशान बनाया गया और राफेल के पहियों के नीचे नींबू भी रखे गए।

भारतीय वायुसेना में राफेल के शामिल होते ही शुरु हुआ बयानबाजी का दौर…

कांग्रेस नेता ने राफेल की नींबू-नारियल वाली पूजा को कहा ड्रामा

अब कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने इस तरह की पूजा पर सवाल उठाए हैं और एक बार फिर सरकार पर निशाना साध दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि विजयादशमी और राफेल विमान का मेल कुछ समझ नहीं आता है। संदीप दीक्षित बोले कि दशहरा एक त्योहार है, जिसे हम सभी मनाते हैं, लेकिन आप इसे आने वाले विमान से क्यों जोड़ रहे हैं। इस सरकार के साथ यही दिक्कत है कि ये काम कम और नाटक ज्यादा दिखती है।

कांग्रेस नेता ने राफेल की नींबू-नारियल वाली पूजा को कहा ड्रामा

केवल इतना ही नहीं बल्कि कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा राफेल विमान रिसीव करने पर ही सवाल उठा दिया है, की इसे रक्षा मंत्री द्वारा ही क्यों रिसीव किया गया, ये काम वायुसेना से ही कराया जा सकता था।

राफेल के लिए फ्रांस पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राफेल में ऐसे उड़ान भी करेंगे राजनाथ सिंह….

कांग्रेस नेता ने राफेल की नींबू-नारियल वाली पूजा को कहा ड्रामा

इसके साथ ही इस शस्त्र पूजा ने सोशल मीडिया को बहस के लिए एक नया टॉपिक दे दिया है। राफेल के नींबू-नारियल पर कई मजाक भी बन रहे हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया पर लोग लिख रहे हैं कि ऐसा पहली बार ही हुआ है जब दुनिया ने ऐसा कुछ देखा हो, कई लोगों ने ये भी लिखा कि भारत ने आखिरकार राफेल को देसी बना ही दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here