इस साल तीन वैज्ञानिकों को सामूहिक रूप से नोबेल पुरस्कार से सम्मानित करने के लिए चुना गया है।

 चिकित्सा के क्षेत्र में 3 वैज्ञानिकों को मिला नोबेल पुरस्कार

नोबेल पुरस्कारों की घोषणा 7 अक्टूबर से शुरू हो गई है। चिकित्सा के क्षेत्र में इस साल तीन वैज्ञानिकों को सामूहिक रूप से नोबेल पुरस्कार से सम्मानित करने के लिए चुना गया है। जिसमें विलियम जी केलिन, सर पीटर जे रैटक्लिफ और ग्रेग एल सेमेन्जा शामिल हैं। इन्होंने इस बात कि खोज करी कि ऑक्सीजन का स्तर किस तरह से हमारे सेलुलर मेटाबोलिज्म और शारीरिक गतिविधियों को प्रभावित करता है।

वैज्ञानिकों की इस खोज से बीमारियों के खिलाफ लड़ने के लिए एक रास्ता निकल कर सामने आया।  एनीमिया, कैंसर और अन्य बीमारियों

वैज्ञानिकों की इस खोज से एनीमिया, कैंसर और अन्य बीमारियों के खिलाफ लड़ने के लिए एक रास्ता निकल कर सामने आया। बता दें नोबेल पुरस्कार हर साल स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की स्मृति में दिया जाता है। इसकी शुरुआत 1901 में हुई थी। ये पुरस्कार चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में दिया जाता है।

मंगलवार को भौतिकी के क्षेत्र में विजेता के नाम की घोषणा की जाएगी।

मंगलवार को भौतिकी के क्षेत्र में विजेता के नाम की घोषणा की जाएगी।

मंगलवार को भौतिकी के क्षेत्र में विजेता के नाम की घोषणा की जाएगी। इसके बाद 14 अक्टूबर तक पांच अन्य क्षेत्रों में भी विजेताओं के नाम घोषित होंगे। स्वीडिश अकादमी 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों का एलान करेगी। पिछले साल उभरे यौन उत्पीड़न के मामले की वजह से 2018 के साहित्य नोबेल की घोषणा को अकादमी ने स्थगित कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here