पाक पीएम इमरान खान ने कहा कि अब भारत से बातचीत करने की अपील नहीं करेंगे।

कश्मीर से विशेष दर्जा खत्म करने के मोदी सरकार के इस फैसले के बाद से ही पाकिस्तानी पीएम इमरान खान लगातार बयानबाज़ी कर रहे हैं। कभी वह इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र संघ मे ले जाने की अपील करते है, तो कभी इस फैसले को गलत ठहराते हैं। ऐसे मे खबर है पाक पीएम ने अमरीकी अखबार को एक इंटरव्यू दिया है और कहा है कि अब वह भारत से बात नही करेंगे।

दरअसल, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को कहा कि अब वह भारत से बातचीत करने की अपील नहीं करेंगे। इसके साथ ही, इमरान खान ने एक बार फिर परमाणु युद्ध की धमकी दी। विदेशी मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में पाकिस्तानी पीएम ने शिकायत करते हुए कहा कि उन्होंने बार-बार बातचीत के लिए अनुरोध किया लेकिन भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नज़रअंदाज़ कर दिया।

अमरीकी अखबार ‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ को दिए इंटरव्यू में इमरान ने कहा, “अब उनसे बात करने का कोई फायदा नहीं है। मैंने बातचीत करने की सारी कोशिशें कर लीं। दुर्भाग्य है कि अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो लगता है कि मेरी शांति और बातचीत की सारी कोशिशों को उन्होंने तुष्टीकरण के तौर पर लिया।”

इमरान खान ने कहा कि अब भारतीय अधिकारियों से बातचीत करने का कोई औचित्य नहीं रह गया है और अब तक किए गए सारे प्रयास बेकार साबित हुए हैं। इमरान ने कहा, अब इससे ज्यादा हम कुछ और नहीं कर सकते हैं।

इमरान खान ने एक बार फिर पीएम मोदी को फासीवादी और हिंदूवादी करार देते हुए आरोप लगाया कि वह कश्मीर की मुस्लिम बाहुल्य आबादी का सफ़ाया कर उसे हिंदू बाहुल्य इलाके में तब्दील कर देना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here