अयोध्या मामले पर मध्यस्थता फेल, अब सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया ये बड़ा फैसला…!

0
296
अयोध्या मामले पर मध्यस्थता फेल, अब सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया ये बड़ा फैसला.........

अयोध्या भूमि विवाद को बातचीत से सुलझाने के लिए गठित मध्यस्थता पैनल गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को सील बंद लिफाफे में अंतिम रिपोर्ट सौंपी।

जाने कितने सालों से राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद का विवाद चला आ रहा है। पता नहीं कितनी सरकारें राम मंदिर का राग गाकर सत्ता में आई और चली गई। न जाने कितने नेताओं ने राम मंदिर को लेकर सुर्खियां बटोरी और चुनाव जीते। लेकिन कभी मंदिर नहीं मिला, मिले तो सिर्फ सांप्रदायिक दंगे।

पीएम मोदी की घोषणा, इन लोगों के बैंक खाते में आएंगे 24-24 हजार रुपए, तुरंत क्लिक करें और जानें…..

अयोध्या मामले पर मध्यस्थता फेल, अब सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया ये बड़ा फैसला......... सुनवाई के दौरान अयोध्या भूमि विवाद को बातचीत से सुलझाने के लिए गठित मध्यस्था पैनल ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को सीलबंद लिफाफे में अंतिम रिपोर्ट सौंपी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की बेंच ने कहा कि मध्यस्था पैनल कोई स्थाई समझौता करवाने में सफल नहीं रही, अब इस मामले की कोर्ट में 6 अगस्त से रोजाना सुनवाई की जाएगी।

कोर्ट ने उन्नाव केस को दिल्ली ट्रांसफर करने को कहा, जानिए परिवार क्यों नहीं जाना चाहता दिल्ली……..

अयोध्या मामले पर मध्यस्थता फेल, अब सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया ये बड़ा फैसला.........
अयोध्या भूमि विवाद को बातचीत से सुलझाने के लिए गठित मध्यस्थता पैनल गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को सील बंद लिफाफे में अंतिम रिपोर्ट सौंपी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की बेंच ने कहा कि मध्यस्थता पैनल कोई स्थाई समझौता करवा पाने में असफल रहा। अब इस मामले की 6 अगस्त से रोजाना सुनवाई की जाएगी। अब इससे साफ हो गया है कि मध्यस्थता का मार्ग कोई खास प्रभाव नहीं छोड़ पाया। अब इलाहाबाद हाईकोर्ट के 2010 में विवादित जमीन को तीन भाग में बांटने वाले फैसले को ध्यान में रखते हुए कोर्ट आगे की सुनवाई को पूरी करेगा।

अयोध्या मामले पर मध्यस्थता फेल, अब सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया ये बड़ा फैसला.........इससे पहले याचिकाकर्ता ने कहा था कि मध्यस्थता पैनल से कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिल रहा है। इसलिए कोर्ट को जल्द फैसले के लिए रोज सुनवाई पर विचार करना चाहिए। इस पर कोर्ट ने कहा था कि मध्यस्थता पैनल की स्टेटस रिपोर्ट देखने के बाद ही तय करेंगे कि अयोध्या मामले की सुनवाई रोजाना की जाएगी या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here