गाजियाबाद की विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019, मेंटर अमृता मिश्रा का योगदान रहा।

0
526
विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019
विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019

विदिशा बलियान जिन्होंने 19 जुलाई की शाम को मिस डेफ वर्ल्ड 2019 का खिताब अपने नाम कर हिंदुस्तान की शान में चार चांद लगा दिए हैं।

ख़ुदी को कर बुलंद इतना कि हर तक़दीर से पहले 
ख़ुदा बंदे से ख़ुद पूछे बता तेरी रज़ा क्या है।

पढ़ने में तो यह दो लाइन है, और देखने में एक शायर का लिखा हुआ एक शेर, लेकिन कुछ लोगों की जिंदगी इससे बहुत ही मेल खाती है, कुछ लोग वाकई इतनी मेहनत और लगन के साथ अपने सपने को साकार करने की कोशिश करते है। कि वाकई खुदा उनसे खुद पूछता है। बता तेरी ख्वाहिश क्या है?

आज हम जिस शख्सियत के बारे में आपको बताने वाले हैं उनका नाम है विदिशा बलियान जिन्होंने 19 जुलाई की शाम को मिस डेफ वर्ल्ड 2019 का खिताब अपने नाम कर हिंदुस्तान की शान में चार चांद लगा दिए हैं, मिस एंड मिस्टर डेफ वर्ल्ड – यूरोप – एशिया – 2019 का आयोजन साउथ अफ्रीका में किया गया था! यह सिर्फ गाजियाबाद के लिए ही नहीं बल्कि पूरे हिंदुस्तान के लिए बहुत ही गर्व की बात है, क्योंकि इस कैटेगरी में पहली बार कोई भारतीय जीता है।

यहां इस फोटो में मिस डेफ वर्ल्ड-2019 के खिताब के साथ विदिशा के चेहरे की खुशी अलग ही दिख रही है।

विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019
विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019

जब भगवान किसी इंसान को किसी कमी के साथ धरती पर उतारता है, तो उसमें कुछ गुण भी देता है, कुछ ऐसा ही विदिशा बलियान के साथ भी था, अगर खुदा ने उसे सुनने और बोलने की ताकत से महरूम रखा तो साथ में उसे जन्नत की हूर सी खूबसूरती भी दी। 

विदिशा बलियान मूल रूप से गाजियाबाद वसुंधरा की रहने वाली हैं, जिन्हें बचपन से ही सुनने समझने में बहुत परेशानी होती थी। उनकी मां डॉ दीपशिखा ने बातचीत के दौरान बताया कि स्कूल में पढ़ाई के दौरान उसे लिखने पढ़ने में भी परेशानी महसूस होती थी, जिसकी वजह से वह अपना होमवर्क भी नहीं कर पाती थी,

विदिशा का ध्यान इस तरह की बातों से हटाने के लिए उसे स्पोर्ट्स की गतिविधियों में व्यस्त कर दिया। वह स्कूल के दिनों में वॉलीबॉल की एक अच्छी खिलाड़ी रही, वॉलीबॉल ग्रुप वाला खेल होने के कारण विदिशा को उसमें भी बहुत परेशानी महसूस हुई, इसलिए हमने उसे ऐसे खेल में व्यस्त कर दिया जिसमें उसकी प्रतिभा सभी के सामने आ सके, इसलिए उसे लॉन टेनिस खेलने की सलाह दी! इसमें विदिशा ने राष्ट्रीय स्तर पर दो बार सिल्वर मेडिल और डिफलॉम्पिक्स में पांचवां स्थान भी हासिल किया, लेकिन रीढ की हड्डी की चोट की वजह से उन्हें लॉन टेनिस को अलविदा कहना पड़ा! इसके बाद वो काफी मायूस रहने लगी लेकिन उनके परिवार ने इस मुश्किल दौर में उनका हौसला बढ़ाया।

चोट के कारण स्पोर्ट्स को छोड़ने के बाद विदिशा ने हौसला नहीं हारा, आगे करियर में बदलाव करते हुए उन्होंने फैशन वर्ल्ड में कदम रख कर एक नए सपने को देखना शुरू किया, नए सपने को पूरा करने की कोशिश में परेशानियां तो बहुत हुई लेकिन कुछ लोगों के साथ होने की वजह से रास्ते आसान चले गए, इस नए सफर के दौरान उनकी मेंटर अमृता मिश्रा ने उनका हौसला बढ़ाने के साथ-साथ जरूरी ट्रेनिंग भी कराई, जिस ट्रेनिंग की की वजह से विदिशा को इस नए करियर में बहुत फायदा हुआ. शुरुआती दिनों में उनकी मेकअप आर्टिस्ट शालिनी यादव और फैशन फोटोग्राफर कुमार आशुतोष ने भी उनकी मदद की! उन्होंने वेबसाइट पर अपने लिए कई अवसर तलाशने के बाद मिस डेफ इंडिया 2019 में जाने का निर्णय लिया उसमें काफी मेहनत के बाद यह खिताब अपने नाम किया।

इस फोटो में विदिशा बलियान मिस डेफ इंडिया 2019 खिताब के साथ।

विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019
विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019

इस सपने को साकार करने में व्हिलिंग हैप्पीनेस फाउंडेशन ने भी मदद की। उसके बाद सेक्टर-16 स्थित मारवाह स्टूडियो ने विदिशा का एक वीडियो शूट कराया, जिसे साउथ अफ्रीका में मिस डेफ  2019 में दिखाया गया, शूट के लिए नोएडा अथॉरिटी के राजीव त्यागी ने जगह दिलाने में मदद की जहां 90 सेकंड का वीडियो शूट बनाया गया. इसके अलावा मिस वर्ल्ड रह चुकी मानुषी चिल्लर का पर्सनेलिटी डिवेलपमेंट करने वालीं रीटा गंगवानी विदिशा को तैयार किया! मेंटर अमृता मिश्रा और  रीटा गंगवानी जैसे लोगों की मदद से विदिशा ने मिस डेफ वर्ल्ड 2019 का खिताब जीत लिया है।

यहां इस फोटो में विदिशा बलियान अपनी मेंटर अमृता मिश्रा के साथ। 

विदिशा बलियान ने जीता मिस डेफ वर्ल्ड 2019
अगर आपने खुद को वैसे ही स्वीकार किया है। जैसे आप हैं तो आपके आस-पास के लोग भी आपको आसानी से स्वीकार कर लेते हैं, लेकिन दिव्यांग होने के चलते सोसायटी में फिट बैठने के लिए आपको काफी संघर्ष करना पड़ता है! विदिशा के अंदर कुछ करने की चाह ने उसे उसके मुकाम पर पहुंचा दिया, इसलिए किसी ने सही कहा है, अगर तुम किसी चीज को शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की साजिश में लग जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here