कार चालक ने नशे की हालत में फूटपात पर सो रहे लोगों को रौंदा, एक की मौत

0
359

दिल्ली निजामुद्दीन थाने के सामने नशे में धुत एक कार चालक ने सड़क पर सो रहो लोगों को रौंद डाला।

दिल्ली निजामुद्दीन थाने के सामने नशे में धुत एक कार चालक ने सड़क पर सो रहो लोगों को रौंद डाला। जिसमें से एक व्यक्ति की अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी को मौके से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी अभिषेक गुरूवार को देर रात पार्टी कर के लौट रहा था लौटते वक्त वो नशे में धुत था और होंडा सिटी कार को ड्राइव कर रहा था अभिषेक पार्टी से जनकपुरी अपने घर जाने के लिए निकला था। तड़के करीब  3.36 बजे तेज रफ्तार के कारण उसकी कार का एक टायर फट गया। शराब के नशे में होने के चलते वह गाड़ी को संभाल नहीं पाया और कार निजामुद्दीन थाने के बाहर फुटपाथ पर सो रहे लोगों के ऊपर चढ़ गई। टायर फटने की आवाज सुनकर थाने में मौजूद पुलिसकर्मी बाहर आए।

पुलिस कर्मियों ने गाड़ी से अभिषेक को बाहर निकाला और घायलों 23 वर्षीय साहिब, 48 वर्षीय शेख, 23 वर्षीय नौशाद और 32 वर्षीय आरिफ को एम्स ट्रामा सेंटर पहुंचाया। अस्पताल में उपचार के दौरान आरिफ ने दम तोड़ दिया। मृतक और सभी घायल लंबे समय से फुटपाथ पर ही रहते थे और मजदूरी करते थे।

आरोपी अभिषेक पर मृतक आरिफ के परिजनों की तहरीर के आधार पर गैर इरादतन हत्या और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। उन्होंने कहा कि आरोपी जनकपुरी में रहता है और ब्रिटेन स्थित एक विश्वविद्यालय में दक्षिण एशिया देशों का समन्वयक है। निजामुद्दीन थाने के सामने फुटपाथ पर सो रहे चार लोगों को शुक्रवार तड़के तेज रफ्तार लग्जरी कार से कुचलने वाला अभिषेक शराब के नशे में धुत था। आश्रम स्थित दोस्त के घर से पार्टी करने के बाद अपने घर जा रहे अभिषेक ने तय सीमा से चार गुना ज्यादा शराब पी रखी थी। हादसे के बाद पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है।

बता दें कि पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो उन्हें अभिषेक अपनी गाड़ी में ही बेसुध हालत में पड़ा मिला। नशा होने के चलते अभिषेक खुद से गाड़ी से बाहर नहीं निकल पा रहा था। हादसे से भड़की भीड़ उसकी गाड़ी के गेट तोड़ने की कोशिश कर रही थी। पुलिसकर्मियों ने भीड़ को शांत कर अभिषेक को गाड़ी से निकाला और उसे थाने में ले गई।

आरोपी ने पूछताछ में बताया है कि जब वह शराब पीने के बाद अपने घर के लिए जा रहा था तो उसके दोस्तों ने उसे रूकने के लिए कहा था। सारे दोस्त अभी और शराब पीना चाहते थे। लेकिन शराब खत्म हो जाने के चलते अभिषेक अपने घर जाने की जिद करने लगा। सूत्रों की माने तो अभिषेक ने एक दोस्त से उसके साथ चलने के लिए कहा था, लेकिन एक अन्य दोस्त उसे अपनी गाड़ी में ले गया। अभिषेक ज्यादा नशे में होने के बाद भी गाड़ी खुद चला रहा था। पुलिसकर्मियों के मुताबिक गाड़ी की रफ्तार करीब 100 किलोमीटर प्रति घंटा रही होगी। टायर फटने के बाद गाड़ी फुटपाथ पर चढ़ी और लोगों को कुचलते हुए वापस फुटपाथ से नीचे आकर रुकी। बाद में गाड़ी को क्रेन की मदद से मौके से हटाया गया।

मृतक आरिफ अपने पूरे परिवार के साथ इस फुटपाथ पर रहता था। उसकी पत्नी, माँ और दो बच्चे हादसे के समय उससे कुछ ही दूरी पर सोए थे। परिजनों ने बताया कि बच्चे अक्सर आरिफ के साथ ही सोते थे, लेकिन गुरुवार रात को जब सब सोने के लिए जा रहे थे, तो आरिफ की पत्नी और माँ बच्चों को अपने साथ लेकर चली गई। जिसके चलते बच्चों की जान बच गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here