पश्चिम बंगाल में प्रचार रोकने पर भड़की कांग्रेस, चुनाव आयोग से पूछे ये सवाल

0
239
congress
new delhi

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के चलते पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी के बीच चल रहीं हिंसा दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। अभी तक कांग्रेस इस हिंसा से कुछ दूर थी लेकिन अब कांग्रेस भी इसमें कूद चुकी हैं कांग्रेस ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान भड़की हिंसा को लेकर चुनाव आयोग के 16 मई की रात को चुनाव प्रचार रोकने के फैसले पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि ये लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन हैं। क्योंकि चुनाव आयोग ने प्रक्रिया का पालन नहीं किया और सिर्फ पीएम मोदी की ही रैली को ही इजाज़त दी हैं।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में कहा कि ये लोकतंत्र के इतिहास में काला दिन हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग के आदेश में अनुच्छेद 14 और 21 के अंतर्गत जरूरी प्रक्रिया का अनुपालन नहीं हुआ हैं।

इसके साथ ही उनका कहना है कि चुनाव आयोग में पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ 11 शिकायतें दर्ज की गई हैं। लेकिन एक पर भी कार्रवाई नहीं हुई है। पश्चिम बंगाल में बीजेपी द्वारा हिंसा की गई और अमित शाह ने वहां लोगों को धमकाया लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।

इतना ही नहीं पीएम मोदी को 16 मई को रैली करने की इजाज़त दे दी गई लेकिन अन्य सभी पर प्रतिबंध लगा दिया गया। ये लोकतंत्र के लिए बहुत ही शर्मनाक बात हैं। इससे पहले पश्चिम बंगाल की हिंसा को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने ट्वीट कर कहा था कि अगर हालात इतने खराब हो चुकें हैं तो पश्चिम बंगाल में प्रचार चुनाव बंद कर देना चाहिए।

बता दें कि अहमद पटेल ने कहा कि अगर चुनाव आयोग को प्रचार पर प्रतिबंध लगाना ही है तो चुनाव आयोग इंतजार क्यों कर रहा हैं। कहीं ये इसलिए तो नहीं किया जा रहा कि बृहस्पतिवार को पीएम मोदी की रैली होनी हैं। अगर ऐसा किया जा रहा है तो ये सरासर अप्रत्याशित हैं। एक तरफ चुनाव आयोग पश्चिम बंगाल की स्थिति को अप्रत्याशित बता रहा हैं।

वहीं दूसरी तरफ पीएम मोदी की रैली का इंतजार किया जा रहा हैं। वहीं इस मामले में टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी ने भी चुनाव आयोग पर तंज कसते हुए कहां कि चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को ये तोहफा दिया हैं। जो बहुत ही अभूतपूर्व, असंवैधानिक और अनैतिक’ हैं। साथ ही ममता ने कहा कि मैंने आज तक ऐसा चुनाव आयोग नहीं देखा है जो आरएसएस से भरा हुआ हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here