सबसे बुरे दौर से गुजर रही देश की ऑटो इंडस्‍ट्री, नौकरियों पर मंडरा रहा खतरा!

0
179
ऑटो इंडस्‍ट्री

मौजूदा दौर में देश की ऑटो इंडस्‍ट्री को सबसे बुरे दिन देखने पड़ रहे है। दरअसल पैसेंजर व्हीकल और कारों की बिक्री में लगातार गिरावट आ रही है। जिसकी वजह से ये इंडस्ट्री सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। हालत इस कदर ख़राब हो चुके है कि देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी ने अपना प्रोडक्शन 39 प्रतिशत तक कम कर दिया है।

ऑटो इंडस्‍ट्री के विशेषज्ञों का मानना है कि अगर यही हालत रहे तो लाखों लोग बेरोजगार हो सकते है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक पैसेंजर व्हीकल की बिक्री में अप्रैल महीने में 17 फीसदी कम हुई है। सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (SIAM) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक यात्री वाहनों की घरेलू बाजार में बिक्री अप्रैल 2019 में 17.07 फीसदी गिरकर 2,47,541 इकाई रही है।

ऑटो इंडस्‍ट्री

आपको बता दें बीते तीन महीनों में पैसेंजर ​व्हीकल की बिक्री में 17 फीसदी और कार बिक्री में लगभग 20 फीसदी की भारी गिरावट दर्ज की गई। इससे पहले मार्च 2019 में पैसेंजर व्‍हीकल की बिक्री लगभग 3 फीसदी और कार की बिक्री 6.87 फीसदी गिरी थी। वहीँ फरवरी के महीने में यह गिरावट क्रमश: 1 फीसदी और 4.33 फीसदी की रही थी।

अप्रैल 2019 में निर्यात की बात करें तो कुल ऑटोमोबाइल के निर्यात में 0.05 फीसद की गिरावट देखी गई है। वहीं, पैसेंजर व्हीकल्स के निर्यात में 11.60 की बढ़ोतरी हुई है।

अप्रैल 2018 की तुलना में पिछले महीने कमर्शियल व्हीकल्स की बिक्री में 54.32 की गिरावट, थ्री व्हीलर्स की बिक्री में 7.53 फीसद और टू-व्हीलर्स की बिक्री में 0.04 फीसद की गिरावट देखी गई है।

देश की सबसे बड़ी ऑटो कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) की यात्री वाहन बिक्री अप्रैल में 19.61 फीसदी गिरकर 1,31,385 इकाई रही। वहीं हुंडई मोटर इंडिया की बिक्री 10.12 फीसदी गिरकर 42,005 इकाई रही। इसके अलावा महिंद्रा एंड महिंद्रा की यात्री वाहन बिक्री में 8.52 फीसदी गिरावट आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here